Animal Review: Real Violence Film | Critics Ratings⭐ | Aspects Ratings⭐ | Dialogues In Hindi | Budget

0

 


Aspects Ratings

Story

3.8

Acting

3.7

Action

4.3

Direction

3.9

Cinematography

4.1

Critics Ratings

IMDB

7.1/10

Google users

83% liked this film

IGN

7/10

The Times of India

3/5

Common Sense Media

2/5

Sucharita Tyagi - Medium

2/5

The Hindu

4/5

NDTV

3.5/5

Film Companion

4.5/5

Bollywood Hungama

3/5

Pinkvilla

4/5

India Today

3.5/5

  • Release date: 1 December 2023 (India)
  • Director: Sandeep Reddy Vanga
  • Budget: 100 crores INR
  • Distributed by: AA Films, Sri Venkateswara Creations
  • Cinematography: Amit Roy
  • Dialogues by: Saurabh Gupta


Animal Movie Review 


एनिमल, डिरेक्टर संदीप रेड्डी वांगा की latest फिल्म है, ये ऐसी फिल्म है जो कोई प्रभाव नहीं डालती है। ये इंसानियत के अंधेरे पक्ष पर एक निर्दय, हिंसक और अक्सर परेशान करने वाला नजिरिया है। हालांकि यह परफेक्ट नहीं है, लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि एनिमल एक strong और Unforgettable फिल्म है।


विजय नाम के एक युवा व्यक्ति के रूप में रणबीर कपूर ने करियर को defined करने वाला रॉल किया है, जो गुस्सा और हिंसा से भरा हुआ है। रणबीर अपने रॉल में बिल्कुल घुसे हुए हैं, और वो विजय के अंधेरे के प्रति पूरी तरह से Committed हैं। रणबीर को एक मंझे हुए कलाकार की कंपनी मिलती है, जिसमें विजय के पिता के रूप में अनिल कपूर और उनकी प्रेमिका के रूप में रश्मिका मंदाना शामिल हैं।


फिल्म के एक्शन सीक्वेंस भारतीय सिनेमा में अब तक देखे गए सबसे अट्रेक्टिव सीन्स में से एक हैं। वे निर्दय और काफी घिनौना हैं, लेकिन उन्हें खूबसूरती से कोरियोग्राफ और implement भी किया गया है। वांगा के पास तनाव और थ्रिल पैदा करने का असली तजुर्बा है, और वह आपको पूरी फिल्म में अपनी सीट से उठने नहीं देगी है।


हालाँकि, एनिमल में कुछ खामियों भी है। फिल्म की कहानी सिंपल है और कई बार इसमें थोड़ी कॉपी महसूस हो सकती है। इसकेआलावा, हिंसा और परेशान करने वाली हो सकती है। कुछ लोगो को फिल्म की स्री जाति से द्वेष भी अटपटी लग सकती है।


  • रणबीर कपूर का रॉल कमाल का है। वह गुस्से से भरे विजय के रूप में पूरी तरह से घुसे हुए हैं और फिल्म को अपने कंधों पर लेकर चलते हैं।
  • एक्शन सीक्वेंस बड़े लेवल के हैं। वे हंसा, असली और रोमांचक हैं।
  • फिल्म की कहानी सिंपल है लेकिन दमदार है. यह एक क्लासिक बदले की कहानी है जो अच्छी तरह से बताई गई है।
  • ये फिल्म हिंसा से भरी और परेशान करने वाली है. कुछ दर्शकों के लिए यह बहुत ज़्यादा हो सकता है.
  • फिल्म स्त्रीद्वेषी है. यह कुछ दर्शकों को बुरा लग सकता है।

अगर आप एक्शन फिल्मों के फैन हैं, या अगर आप एक ऐसी फिल्म ढूंढ रहे हैं जो आपको मजा दिलादे, तो मैं एनिमल देखने की सलाह देता हूं। हालाँकि, सावधान रहें कि यह एक हिंसक और परेशान करने वाली फिल्म है।


Animal Movie Dialogues Hindi 



Animal Movie 


"विजय" सिंह एक जवान लड़का है जो अपने पिता, बलबीर सिंह, जो एक सफल बिजनेसमैन हैं, पिता के लिए कुछ भी कर सकता है। हालाँकि, बलबीर पर एक हत्या के प्रयास ने उनके सुखी जीवन को तहस-नहस कर दिया। बदले की आग में वे जल रहे है, विजय अपराधियों को खोजने के लिए एकहिंसक और निर्दयी रूप ले लेता है। 


अब विजय एक खतरनाक जानवर बन जाता है, जो गुस्से से भरा हुआ है। जैसे-जैसे विजय हिंसा और अपराध की दुनिया में गहराई से उतरता है, वह अपनी मानवता को पीछे छोड़ देता है और अपने भीतर के जानवर को बहार निकाल लेता है।


अपनी पूरी जर्नी के दौरान, विजय अपने कामों के परिणामों से जूझता रहता है। न्याय और बदले के बीच लगातार पतली होती रेखा को पार करते हुए उसे अपने अंदर की लड़ाई का सामना करना पड़ता है। अपने पिता के साथ उसके रिश्ते, उसकी प्रेमिका और उसके खुद के साथ भी तनाव भरे रिश्ते बन जाते हैं।


Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)
To Top