गुरुत्वाकर्षण तरंगें कैसे काम करती हैं? | How do gravitational waves work?


गुरुत्वाकर्षण सिर्फ एक FORCE नहीं है जो चीजों को एक दूसरे से बांधे रखता है। हम जानते हैं कि गुरुत्वाकर्षण force आकाश गंगा या अंतरिक्ष-समय में अलग अलग प्रकार की तरंगें बना सकता है। पर क्या आप जानते है के गुरुत्वाकर्षण से उठने वालीं तरंगे आखिर काम कैसे करती है। चलिए जानते है 

गुरुत्वाकर्षण तरंगें कैसे काम करती हैं

अल्बर्ट आइंस्टीन ने relativity के अपने सामान्य नियम को तैयार करने के तुरंत बाद, ये महसूस किया कि गुरुत्वाकर्षण फोर्स तरंगें बना सकता है। हालांकि, उन्होंने अपने निर्णय के परिणाम पर संदेह हुआ। यह अहसास हुआ कि गुरुत्वाकर्षण तरंगें हमारे आस पास मौजूद हैं, पर आइंस्टीन यह नहीं जानते थे. कि लहरें वास्तविक है या नहीं। 

general relativity की equations को हल करना बेहद मुश्किल था, इसलिए इसमें कोई चौकाने वाली बात नहीं है कि आइंस्टीन ने भी इसके बारे में दुनिया के सामने जिक्र किया। बहुत सारे physicists को इस निष्कर्ष पर पहुंचने में काफी साल लग गए कि general relativity गुरुत्वाकर्षण तरंगों को Support करती है। दूसरे शब्दों में, वे वास्तव में एक वास्तविक चीज़ हैं।

इस ब्रह्मांड में गुरुत्वाकर्षण तरंगें का बनना चीजों का हिलने डुलने पर डिपेंड होता है अगर आप कही जा रहे है या कुछ भी एक्टिविटी कर रहे है तो मतलब आप गुरुत्वाकषण तरंगे बना रहे है किसी भी वजन दार चीज का गति में आने से गुरुत्वाकर्षण तरंगें उठने लगती है। 

क्या आपने ऐसा महसूस किया?

ब्रह्मांड में भले ही हर चीज गुरुत्वाकर्षण तरंगें पैदा कर रही है, लेकिन आप उसपर कभी ध्यान नहीं देते।  , प्रकृति की चार बुनियादी शक्तियों में से गुरुत्वाकर्षण सबसे कमजोर है। यहां तक ​​​​कि अगर गुरुत्वाकर्षण बल एक अरब गुना अधिक मजबूत भी होता है, तब भी यह दूसरे बलों की तुलना में कमजोर ही रहेगा।

गुरुत्वाकर्षण तरंगें हमारे चारो ओर घूमती रहती है या ये कहें के हमारा पूरा शरीर इससे लिपटा रहता है। पर फिर भी हमे कुछ ज्यादा महसूस नहीं होता, इसका मतलब यह है के गुरुत्वाकर्षण तरंगे और बल के मुकाबले ना के बराबर है 

यदि आप दो ब्लैक होल के Fusion के आधे मील के भीतर होते है, तो गुरुत्वाकर्षण तरंगें इतनी मजबूत होतीं है कि ये आपको अलग कर देगी। पर अगर आप ब्लैक होल के Fusion से सैकड़ों मील दूर होते है, तो यह आपकी गर्दन के बालों को भी खड़ा नहीं कर सकती।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ