Movie Review: Dream girl 2 Hindi Review | आयुष्मान ने फिरसे की लड़की बन के लोगो से बाते

0


Release date

25 August 2023 (India)

Director

Raaj Shaandilyaa

Producers

Ekta Kapoor, Shobha Kapoor

Budget

35 crores INR

Screenplay

Raaj Shaandilyaa, Naresh Kathooria

Distributed by

Pen Studios

CRITICS RATINGS

IMDb

6.2

Google users

88% liked this film

Bollywood Hungama

3/5

Film Companion

2.5/5

The Times of India

3/5

The Hindu

2.5/5

Rediff

2.5/5

India Today

2/5

NDTV Movies

2/5

personal Rating

Story

2/5

Direction

2/5

Acting

3/5

Music

3/5

Cinematography

3/5

Humor

3/5

Entertainment value

3/5

Overall

2.5/5

Dream Girl 2 Hindi Review - एक 2023 भारतीय हिंदी भाषा की कॉमेडी फिल्म है, जो राज शांडिल्य द्वारा डायरेक्ट और एकता कपूर द्वारा उनके बैनर बालाजी मोशन पिक्चर्स के द्वारा बनाई गयी है। यह 2019 की फिल्म ड्रीम गर्ल का सीक्वल है, जिसमें आयुष्मान खुराना और नुसरत भरूचा ने अभिनय किया था। इस फिल्म में आयुष्मान खुराना, अनन्या पांडे, परेश रावल, विजय राज, राजपाल यादव, मनोज जोशी और अभिषेक बनर्जी हैं।


Dream Girl 2 review In Hindi - में, आयुष्मान ने करम नाम एक युवक की अपनी भूमिका को दोहराया, जो पूजा नाम की एक लोकप्रिय महिला voice artist बन जाता है। फिल्म उसकी यात्रा को दर्शाती है क्योंकि वह अपने दो जीवन को संतुलित करने की पूरी कोशिश करता हैं, साथ ही नई चुनौतियों और रिश्तों से भी निपटता हैं।


फिल्म को reviewers से मिली-जुली Review मिली है। कुछ लोगों ने आयुष्मान के प्रदर्शन और फिल्म के humor  की तारीफ की, जबकि बाकियो ने इसकी वास्तिविकता की कमी की आलोचना की।

Pros & Cons 

Pros

  • आयुष्मान खुराना इस फिल्म का मुख्य अट्रैक्टिव एक्टर है।
  • फिल्म मजेदार और मनोरंजक है.
  • सपोर्टिंग कास्ट भी सही है.

Cons

  • फिल्म पुरानी फिल्म की तरह है और इसमें मौलिकता का कमी है।
  • कहानी पहली फिल्म की तरह ही है।
  • फिल्म बहुत लंबी है और कुछ जगहों पर बोरिंग भी है। 


करमवीर "करम" सिंह मथुरा में रहने वाला एक युवा मध्यमवर्गीय लड़का होता है और जगराता कलाकार के रूप में काम करता है। उनके पास एक महिला की आवाज को पूरी तरह से पेश करने की प्रतिभा होती है। उसके पिता जगजीत सिंह कई कर्ज लेने के बाद भारी कर्ज में डूब जाते हैं और उन्हें चुकाने में असमर्थ होते हैं। वह एक अमीर परिवार की वकील परी श्रीवास्तव के साथ रिश्ते में  होते हैं। परी के पिता जयपाल श्रीवास्तव का ये कहना है कि वह परी की शादी करम से तभी करेंगे जब वह छह महीने के भीतर अच्छी तनख्वाह वाली नौकरी पाने और अपना खुद का घर खरीदने में सक्षम हो जाएगा।


करम परी से शादी करने के लिए बहुत बेताब होता है, इसलिए वह अपनी voice art का उपयोग करके पूजा नाम  महिला बनकर voice लाकार बनने का फैसला करता है। वह एक कॉल सेंटर के लिए काम करना शुरू कर देता है, जहां पर वह एक नकली महिला होने का नाटक करता है और फोन पर मर्दो से बात करता है। वो इस भूमिका में बहुत सफल रहा है और जल्द ही वह एक फेमस आवाज कलाकार बन जाता।


करम की इस नई नौकरी से उसे अपने पिता का कर्ज चुकाने और घर के लिए बचत करने में बहुत मदद मिलती है। वह अपने पैसे का उपयोग अपने दोस्तों और परिवार की मदद के लिए भी करता है। हालाँकि, कुछ समय बाद पूजा के रूप में उसका गुप्त जीवन उस पर भारी पड़ने लगता है। उसे अपने दोस्तों और परिवार से झूठ बोलना पड़ता है और उसे ऐसा लगने लगता है जैसे वह दोहरी जिंदगी जी रहा है।


हालात तब बिगड़ जाते हैं जब करम को एक ऐसे व्यक्ति से शादी करने के लिए मजबूर किया जाता है जो पूजा से प्यार करता है। करम को अपनी असली पहचान सामने लानी पड़ती है, और जब परी उससे अलग हो जाती है तो उसका दिल टूट जाता है।


अंत में, करम को पता चलता है कि वह झूठ नहीं बोल सकता और उसको ऐसी जिन्दी जीने में दिक्कत हो रही है। वह पूजा की नौकरी छोड़ने और परी के साथ अपने रिश्ते पर ध्यान देने का फैसला करता है। उसे यह भी एहसास होता है कि सफल होने के लिए उसे वह बनने की ज़रूरत नहीं है जो वह नहीं है।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)
To Top