परेशान करने वाली हिचकी रोकने के कुछ बेहतरीन उपाए।😲😲

आज हम बात करेंगे हिचकी को रोकने के उपाए के बारे में हिचकी आना एक नेचरल प्रक्रिया है ये हर इंसान को आती है इसको किसी भी प्रकार की समस्या ना समझे। ज्यादातर लोग जिनको नहीं पता होता के हिचकी उठने के पीछे का असली कारण क्या होता है वह समझते है के हमे कोई याद कर रहा है पर असलियत यह नहीं है। 

हिचकी उठने के पीछे सांटिफिक कारण होता है यह किसी के याद करने से नहीं उठती इसके बहुत सारे कारण हो सकते है ज्यादातर हिचकी डायफ्राम के सिकुड़ने से उठती है। डायफ्राम हमारे शरीर की माश्पेशिया होती है जो छाती और पेट को जोड़ती है हिचकी उठने के बाकी कारण हो सकते है जैसे - एक दम से खाना निगलना, गले का सुक जाना, ज्यादा मिर्ची वाला खाना खा लेना, ज्यादा शराब का सेवन करना ये कुछ मुख्य कारण होते है हिचकी के। आम तोर पर हिचकी पानी पीने से रुक जाती है पर कई बार ये हमे काफी परेशान कर देती है और बहुत सारे लोग है जिनकी हिचकी पानी पीने से नहीं रूकती, पर आप फ़िक्र मत कीजिये हम आपको बताने जा रहे है हिचकी को रोकने के कुछ बेहतरीन उपाए जिनको करने से आपकी हिचकी एक दम रुक जाएगी। 

उपाए  :

1 सबसे सिंपल तरीके हिचकी आने पर एक साँस में पानी पिए। 

2 एक चम्मच सेहद में निम्बू मिलकर चाटने से हिचकी रुक जाती है। 

3 अपनी साँस को 20 - 30 सेकंड तक रोके तुरन्त हिचकी बन्द हो जाएगी। 

4 एक चम्मच मीठा या शकर के सेवन से भी हिचकी रुक जाएगी। 

मिश्री और काली मिर्च को चबाये और उसका रस चूसने से भी हिचकी रुक जाति है । 

6 सिरके के सेवन से हिचकी पर तगड़ा असर होता है। 

 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ