10 टिप्स,आपके बच्चे की एकाग्रता और फोकस में सुधार करने के लिए | 10 Tips to Improve Your Child's Concentration and Focus

10 Tips to Improve Your Child's Concentration and Focus



हेलो दोस्तों, आज हम आपको बहुत ही जरुरी और इंट्रेस्टिंग टिप्स जिसको करना आपके बच्चो के लिए लाभ दायक हो सकती है। आज हम आपको कुछ ऐसी टिप्स देंगे जिससे आपके बच्चो की फोकस क्षमता बढ़ जाएगी। हम सबसे घर में छोटे बच्चे होते है जिसने घर में बच्चे नहीं है तो उनको कुछ समय बाद बच्चे होजाएगे, चलिए फिर शुरू करते है बच्चो की मानसिक क्षमता को मजबूत करने वाली टिप्स,

बच्चे हर परिवार का बहुत जरुरी हिस्सा होते है बच्चे जब घर में खेलते है तो पुरे घर में एक रौनक बनी रहती है। लेकिन आज का बदलता लाइफ स्टाइल बच्चो की शारारिक और मानसिक सेहत पर प्रभाव दाल रहा है। आज ज्यादा तर बच्चे बाहर जाकर खेलने के बजाए अपने मम्मी पापा के फ़ोन में वीडियो देखने में बिताते है। सोशल प्लेटफॉर्म्स बच्चो की मानसिक सेहत पर बुरा असर दाल रही है। बच्चो का ज्यादा समय तक बैठे रहता उनकी बढ़ती ग्रोथ रोक सकता है। और ज्यादा समय तक फ़ोन चलने से बच्चो की mental activeness जरुरत से ज्यादा बढ़ सकती है जिससे उनको नींद की समस्या भी हो सकती है। 

ये आर्टिकल उन माता पिता के लिए है जिनके छोटे बच्चे है और वो अपने बचो का फोकस या मानसिक सेहत को मजबूत करना चाहते है. हमने नीचे कुछ तरीके बताए है जिनकी मदद से आप अपने बच्चो में ध्यान देने की शमतो को बढ़ा सकते है।  

1. भरपूर आहार - बच्चो के विकास के लिए भरपूर आहार बहुत बड़ा हिस्सा है अच्छी सेहत ही शरीर को सही तरीके से काम करने में मदद मिलेगी, इसलिए पहला कदम है आपको अपने बच्चे के आहार पर ध्यान देना है  जिससे उनको ध्यान देने में मदद हो सके। उनकी बढ़ती ग्रोत के लिए बच्चो को सही मात्रा में कॉपर, आयरन, विटामिन A, C, D देना बेहद जरुरी है 

2. सही  रूटीन - बच्चो की बढ़ती उम्र में माता पिता की ये जिम्मेदारी होती है के वे अपने बच्चो के बेहतर भविष्य के लिए उनको अच्छे रूटीन की आदत डलवाए, जिससे उनको अपने आने वाले समय में फायदा मिले, केवल अच्छी सेहत ही सब कुछ नहीं है एक बेहतर जीवन के लिए अच्छे रूटीन की आदत भी बहुत जरुरी है. माता पिता को  रूटीन सेट करना चाहिए जो उनके बच्चो के काम आए जेसे जल्दी उठना वॉक करना एक्सरसाइज करना, लोगो से बात करने का तरीका, पढ़ना इत्यादि। ये सब सीखना बेहद जरुरी है।   

 3. नॉन अकेडमिक एक्टिविटी -  ये वो वो तरीका है जिससे आपके बच्चो को बेहतर ध्यान देने वाली आदत बनेगी, आपको अपने बच्चो के साथ कुछ गेम्स खेलने होते है जिनमे कुछ टास्क मौजूद रहते है और उस टास्क को पूरा करने पर इमाम भी दीजिए। ये छोटे छोटे गेम टास्क बच्चो के मेन्टल हेल्थ को मजबूत करती है और उनको खुदसे सोचने में सक्षम बनाते है। इसलिए आप भी कुछ ऐसे टास्क खिलोने लेकर आ सकते है जिनसे बच्चे बोर भी नहीं होंगे और उनका ध्यान देनी की क्षमता भी बढ़ेगी।

4. छोटे कार्य -  आप बचो को घर के छोटे मोठे काम बताए जैसे बोतल भरना गिलास उठाकर देना बुक को अच्छे से रखना, कपड़ो की तय करता इत्यादि जैसे काम बच्चो को अच्छे लगते है। ज्यादा बड़े कामो में बच्चो का ज्यादा इंट्रेस्ट नहीं होता है। इसलिए उनको अपने हिसाब से छोटे मोठे काम बता दिया करे इससे उनको काम करने की समझ आएगी और उनकी मेन्टल मसल्स भी मजबूत होंगी।  

5. ध्यान भटकाना कम करें -  बच्चो को ध्यान भटकाने वाली चीजों से दूर रखे ,जब बच्चा पड़े कर रहा हो या कोई दूसरा जरुरी काम कर रहा हो तो उन चीजों को वातावरण से दूर रखे जिनसे काम में बाधा डालती है जैसे के टीवी की आवाज , मोबिल फ़ोन इत्यादि चीजों को बंद करके रखे। जब बच्चा किसी काम में ध्यान दे रहा हो तो उसके आस पास आवाज ना करे इससे ध्यान टूट जाता है।   

6. आराम करें - ये जरुरी है के आपका बच्चा फिजिकल एक्टिविटी करे खेले कूदे लेकिन इसके साथ साथ बच्चे को पूरा आराम भी चाहिए जिससे उसकी पुरे दिन की थकान दूर हो सके। रात को सोने के समय अपने बच्चे से उन चीजों को दूर रखे जो उनकी नींद ख़राब करने का कारण बन सकती है। जैसे की फ़ोन, टीवी, रौशनी, इत्यादि। अच्छी नींद आपके बच्चे की सेहत के लिए बहुत जरुरी है।   

7. समय अंतराल - बच्चों के लिए कार्यों के बीच कुछ समय अंतराल देना जरुरी है। उदाहरण के लिए, लगातार होमवर्क करने से वे अपना ध्यान और एकाग्रता खो सकते हैं। उन्हें अपना होमवर्क वॉल्यूम बिट्स और टुकड़ों में पूरा करने दें ताकि एक के बाद एक समय अंतराल सुनिश्चित हो सके। इस तरह का काम फोकस सुनिश्चित करता है फिर भी इसे सही तरीके से सुधारता है।

8. प्रशंसा करना - आपको अपने बच्चे की हर गतिविधियो को सहारना चाहिए। इससे बच्चे बहुत खुश होते है बच्चे इस तरह की तारीफ को सबसे बड़ी प्रेरणा मानते हैं। एक अच्छी तरह से प्रेरित बच्चा अक्सर प्रशंसा प्राप्त करने के लिए दिए गए कार्यों पर ध्यान केंद्रित करता है आपको इसे अपने बच्चे में सही प्रशंसा के साथ अच्छी तरह से रखना चाहिए। आपको इस बात पर भी ध्यान देना जरुरी है के आप बच्चे की गलत कामो या गलत दिशामें में प्रशंसा ना करे गलत कामो को करने से अपने बच्चे को रोके। 

9. गतिविधि में बदलाव - बच्चे की दिनचर्या में गतिविधियों में बदलाव आना बहुत आम बात है। लेकिन यहां सावधानी बहुत जरूरी है। बच्चे बढ़ रहे हैं और उन्हें परिवर्तनों को स्वीकार करना मुश्किल लगता है। कभी-कभी, ये परिवर्तन बच्चो के ध्यान और एकाग्रता पर अत्यधिक प्रभाव डाल सकते हैं। आपको उन्हें बदलाव के लिए अच्छी तरह से तैयार करना चाहिए ताकि उनका ध्यान और एकाग्रता प्रभावित न हो।

10. कहानियां - बच्चों को कहानियां सुनाना या पढ़ाना, जो सदियों से बहुत अच्छा सकारात्मक टूल साबित हुई है जिससे बच्चो के जीवन पर काफी प्रभाव दिखाती हैं। अच्छी कहानिया पढ़ाने के इस तरीके का अच्छा उपयोग करें जिससे बच्चे का ध्यान और एकाग्रता में सुधार हो सके। कहानियों को पढ़ते समय सुनने और समझने की क्षमता में बहुत सुधार होगा। इसलिए, कहानियों को पढ़ना आपके बच्चे की एकाग्रता और ध्यान को बेहतर बनाने का एक सिद्ध अभ्यास है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ