Headache disorders क्या है ? (Headache and stress) सिरदर्द किस कारण से होता है, प्रकार (types) कारण (cause) नुक्सान (difficulties) इलाज (treatment)

0

headache disorders?

हेलो दोस्तों, आज हम आपको headache disorders? के बारे में बताएंगे, headache disorders? को हिंदी में सरदर्द कहा जाता है, क्या आपको पता है के सरदर्द क्या होता है और ये किस कारण से होता है, आज का आर्टिकल आपके लिए बेहद फायदेमंद होने वाला है, हम आपको सरदर्द से जुडी सारी मेहतपूर्ण जानकारी देने वाले है और साथ ही इसके इलाज के बारे में भी बताएंगे। 

headache disorders? हमारे नर्वस सिस्टम का सबसे कॉमन डिसऑर्डर में से एक होता है, ये हर इन्सान को होता है और ये नार्मल मन जाता है इसका सबसे आम रूप से होने वाला सिरदर्द को माइग्रेन कहा जाता है ये किसी भी कारण से हो सकता है जैसे - काम की टेंशन, स्ट्रेस इत्यादि। 

(headache disorders)सिरदर्द विकार कितने आम हैं?

अगर दुनिया भर की बात करे तो सिरदर्द की समस्या पिछले साल के मुकाबले इस साल में 50% लोगों को headache disorders है. जिनकी उम्र 18 - 65 के बीच में है। 30% से ज्यादा लोग migraine से जूझ रहे है। हर महीने 15 से 20 लोगो को सिरदर्द की समस्या होती है जिससे दुनिया की 1.7-4% आबादी को प्रभावित होती है। headache disorders अब पूरी दुनिया की समस्या बन चुकी, इसमें हर उम्र के लोग शामिल है, फिर चाहे वो किसी भी देश या शहर मे रहते हो।  

headache disorders के कारण क्या है?

headache disorders का छठा सबसे बड़ा कारण migraine को माना गया है, 2013 की ग्लोबली रिपोर्ट में migraine को सरदर्द की सबसे बड़ी समस्या बताया गया है, लम्बे समय से सोचना, तनाव में में रहना स्ट्रेस भरी जिंदिगी में जीने से migraine होने की प्रॉब्लम पैदा हो सकती है. लम्बे समय से चल रही ख़राब स्थिति, लड़ाई झगड़ा, काम का स्ट्रेस, जैसी समस्या सरदर्द को बढ़ावा देती है। बार बार सरदर्द होने से आपकी सोशल लाइफ और फॅमिली के साथ सम्बंद ख़राब कर सकता है साथ ही साथ आपके काम में भी प्रॉब्लम पैदा करता है। अपने जीवन में काम के साथ साथ ब्रेक देना भी जरूरी है। 

(headache disorders)सिरदर्द विकारों के प्रकार

migraine 🔗

migraine सबसे कॉमन headache है जो हर उम्र के लोगों में देखने को मिली है। ये एक टेंशन टाइप है headache है, जो ज्यादा सोचने और लम्बे समय तक तनाव में रहने से होता है, माइग्रेन की समस्या शहरी छेत्र में  को मिलती है, शहरों का वातावरण तनाव भरा रहता है, और सही खान-पान न मिलने के कारण से लोगों में माइग्रेन की प्रॉब्लम होती है।  

  • शुरुआत में होने वाला सिरदर्द 
  • माइग्रेन 35-40 की उम्र वाले लोगों को ज्यादा प्रभावित करता है 
  • महिलाओं में ये बहुत कॉमन माना गया है 2 में से 1 महिला को माइग्रेन की प्रॉब्लम होती है 
  • मस्तिष्क की तंत्रिका के ज्यादा एक्टिव होने के कारण से नसों में दबाओ पड़ता है जिससे दर्द होना शुरू होता है। 

migraine effects & symptoms 

  • सिरदर्द होना 
  • मस्तिष्क के किसी भी साइट में दर्द उठना 
  • दर्द ज्यादा या गंभीर हो सकता है 
  • सिर भारी होना, हतोड़े बजना 
  • एक हफ्ते में 2 या ज्यादा बात उठना किसी भी समय 

  • TTH सबसे आम सिरदर्द है जो हर जवान इंसान में कॉमन है 
  • दुनिया में 70 % से ज्यादा लोग सिरदर्द से जूझ रहे है। 
  • ये सिरदर्द महीने में 15 दिन से ज्यादा रहने से 3% लोगो को प्रभावित करता है। 
  • इस दर्द में मस्तिष्क में दबाव या जकड़न महसूस होता है। 

cluster headache 🔗

  • प्राइमरी headache है। 
  • ये headache uncommon होता है 1000 में से 1 इंसान को होता है
  • इस headache की शुरुआत 20 की उम्र के बाद होती है 
  • CH आँखों के पास होता है गंभीर रूप से दर्द होता है 
  • दिन में कई बार उठ सकता है 

Medication-overuse headache (MOH) दवाइयों का लिमिट से ज्यादा सेवन 

  • जरूरत से ज्यादा दवाइयों के सेवन से इस सिरदर्द की शुरुआत होती है 
  • सुबह से समय ज्यादा दर्द होता है 
  • दवाइयों का ज्यादा सेवन करने वाले लोगों में ही होता है। 

headache disorders से economic पर क्या असर पड़ता है ?

headache disorders किसी एक इंसान की समस्या नहीं है ये सभी लोगो की प्रॉब्लम है जिससे लोगो के रोजाना के कामो में बहुत नुक्सान होता है जिससे economic पर बुरा असर पड़ता है। एक साल में 2.5 करोड़ से कयदा working और स्कूल days ख़राब हो जाते है। जिससे प्रोडक्टिविटी कम होती है। बहुत से लोग जो माइग्रेन से पीड़ित है उनमे से आधे लोग ही डॉक्टर से इलाज कराते है, बचे उहे लोगो ने headache के साथ काम किया जिससे कम् करने की प्रोडक्टिविटी कम हो गयी। 

Treatment 

headache disorders के इलाज के लिए आपको सबसे पहले अपने डॉक्टर से अपॉइंटमेंट लेना चाहिए और अपनी पूरी समस्या को ठीक से बताए जिसके बाद डॉक्टर आपको आपकी प्रॉब्लम को समझकर ट्रीटमेंट करेंगे। 

दवाइयों से आपको headache की समस्या से आराम मिलेगा लेकिन आपको अपने lifestyle पर भी ध्यान देना होगा, अगर आप अपने जीवन में तनाव कम करे तो आपको सिरदर्द की समस्या कम होगी, आप चाहे तो थेरेपी भी ले सकते है। 

योग और एक्सरसाइज से आप अपनी मानसिक स्थिति को बेहतर बना सकते है, अगर रोजाना आप कुछ एक्टिविटी करेंगे तो टेंशन और तनाव कम होगा, और आपको दवाइयों पर ज्यादा डिपेंड नहीं होना पड़ेगा। 

ख़राब माहौल से खुदको दूर रखने की कोशिश करे, अच्छी बाते करे, किसी खली जगह पर जाकर अपने अस्स पास हो रही एक्टिविटी को महसूस करे, हमे अपने एक आर्टिकल में बताया है के 0% थिंकिंग, आपकी 100% मौजूदगी होती है, अगर आप अपने थॉट्स को accept कर लेते है तो आपका तनाव कम हो जाता है, और मनन शांत रहता है। 


headache disorders?(in English)

Hello friends, today we are going to tell you about headache disorders? Will tell about, headache disorders? is called headache in Hindi, do you know what is headache and what causes it, today's article is going to be very beneficial for you, we are going to give you useful information related to headache and also Will also tell about its treatment.

headache disorders? It is one of the most common disorder of our nervous system, it happens to every human being and it is considered normal, its most common headache is called migraine, it can be due to any reason like - work Tension, stress etc.

How common are headache disorders? If we talk about the whole world then the problem of headache is 50% people have headache disorders in this year as compared to last year. Whose age is between 18 - 65. More than 30% people are suffering from migraine. Every month 15 to 20 people have headache problems, affecting 1.7-4% of the world's population. Headache disorders have now become the problem of the whole world, people of all ages are involved in this, no matter what country or city they live in. What is the cause of headache disorders? Migraine is considered to be the sixth biggest cause of headache disorders, in the 2013 global report, migraine has been described as the biggest problem of headache, thinking for a long time, living in stress, living in a stressful life can cause the problem of migraine. Can Problems like prolonged bad condition, fight, work stress, promote headache. Frequent headaches can spoil your social life and relationships with family, as well as create problems in your work. Along with work, it is also important to give breaks in your life. Types of headache disorders migraine Migraine is the most common headache which has been seen in people of all ages. This is a tension type headache, which is caused by thinking more and being under stress for a long time, the problem of migraine is found in urban areas, the atmosphere of the cities is full of tension, and due to lack of proper food and drink People have migraine problem.
  • onset headache
  • Migraine mostly affects people aged 35-40
  • It is considered very common in women, 1 out of 2 women have migraine problem.
  • Due to the over-activity of the nerves of the brain, there is pressure on the nerves due to which pain starts.
migraine effects & symptoms

  • Migraine mostly affects people aged 35-40
  • It is considered very common in women, 1 out of 2 women have migraine problem.
  • Due to the over-activity of the nerves of the brain, there is pressure on the nerves due to which pain starts.
  • migraine effects & symptoms
It is considered very common in women, 1 out of 2 women have migraine problem.
Due to the over-activity of the nerves of the brain, there is pressure on the nerves due to which pain starts.

migraine effects & symptoms
  • headache
  • pain in any site of the brain
  • pain may be more frequent or severe
  • heavy head, pounding
  • 2 or more episodes per week at any time
  • pain in any site of the brain
  • pain may be more frequent or severe
  • heavy head, pounding
  • 2 or more episodes per week at any time

TTH, tension type headache
  • TTH is the most common headache which is common in every young person.
  • More than 70% of people in the world are suffering from headache.
  • This headache affects 3% of the people by staying for more than 15 days in a month.
  • In this pain, pressure or tightness is felt in the brain.
  • More than 70% of people in the world are suffering from headache.
  • This headache affects 3% of the people by staying for more than 15 days in a month.
  • In this pain, pressure or tightness is felt in the brain.

cluster headache
  • Primary headache. This headache is uncommon,
  • it happens to 1 person out of 1000.
  • This headache starts after the age of 20.
  • This headache starts after the age of 20.
  • CH occurs near the eyes, it hurts severely.
  • may wake up several times a day

Medication-overuse headache (MOH)
  • This headache starts due to excessive consumption of medicines.
  • the pain is worse in the morning
  • It happens only in people who consume more medicines.
What effect does headache disorders have on the economy?

Headache disorders are not the problem of any one person, it is the problem of all the people, due to which there is a lot of loss in the daily work of the people, due to which there is a bad effect on the economic. More than 2.5 crore working and school days get wasted in a year. Due to which the productivity decreases. Many people who suffer from migraine, only half of them get treatment from the doctor, the rest of them work with headache, which reduces the productivity of work.
It happens only in people who consume more medicines.

treatment

For the treatment of headache disorders, you should first take an appointment with your doctor and tell your complete problem properly, after which the doctor will understand your problem and treat you.

Medicines will give you relief from headache problem but you have to pay attention to your lifestyle too, if you reduce stress in your life then you will have less headache problem, you can also take therapy if you want.
With yoga and exercise, you can improve your mental state, if you do some activity daily, then tension and stress will reduce, and you will not have to depend much on medicines.

Try to keep yourself away from bad environment, do good things, go to an empty place and feel the activity going on around you, we have been told in one of our articles that 0% thinking, you have 100% presence, if you If you accept your thoughts, then your stress reduces, and meditation remains calm.

TOP STORIES

 Mental health को support करने के लिए Experts Eating Advice & Tips | Mental Health Support कैसे करे ?

अगर आप ख़राब मानसिक स्थिति से गुजर रहे है तो आप किसी मनोवैज्ञानिक या मनोचिकित्सिक से मिल सकते है जो आपकी स्थिति के अनुसार आपको इलाज बताएंगे। लेकिन अगर आप अपनी डाइट में एक बेहतर बदलाव करना चाहते है जिससे आपकी मेन्टल हेल्थ ठीक हो सके, तो हमारे पास कुछ एक्सपर्ट्स डाइट एडवाइस और उनकी बताई गयी टिप्स है। 

⇒ Expert Tips : Mental Health की सुरक्षा के लिए 5 तरीके | Mental Health को सुधारने और मजबूत करने के 5 जबरदस्त उपाय 

क्या आपकी मानसिक सेहत बेहतर है। अगर नहीं तो आज हम आपकी मानसिक सेहत को बचाने के 5 ऐसे तरीके बताएंगे जिनको करने से आपकी मेंटल हेल्थ सुरक्षित रहेगी। तो चलिए शुरू करते है आज के टॉपिक के बारे में। आज मानसिक समस्या पूरी दुनिया की समस्या बन चुकी है। हर कोई मेंटल हेल्थ की समस्या से परेशान है। stress भरी जिंदगी से लोग परेशान है। और अगर इसका इलाज नहीं किया तो ये समस्या आगे चलकर हमारे जीवन पर बुरा असर डाल सकती है। हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताएंगे जिसकी मदद से आप अपनी मेंटल हेल्थ को बचा सकते है और एक शांत और खुशहाल जिंदगी जी सकते है। 

⇒ 24 Best Mental Health books जो आपकी मानसिक सेहत को बेहतर बनाएगी 

हम 24 ऐसी Mental Health Books के बारे में आपको बताएंगे जिनको आप रीड कर सकते है। ये बुक्स आपकी मानसिक सेहत को ठीक कर सकती है। अगर आप रोजाना का टॉर्चर सेहेन करते है। अपने तनाव भरे काम के चकर में आप अपनी सेहत पर ध्यान नहीं दे पा रहे है जिसके कारण आपकी शारारिक और मानसिक सेहत पर बुरा असर पढ़ रहा है, तो ये बुक्स आपको एक बेहतर मेन्टल हेल्थ की और ले जाएगी। मानसिक सेहत का कमजोर होना पूरी दुनिया में बढ़ता जा रहा है। आज हमारा लाइफस्टाइल पहले के मुकाबले बदल चूका है। जिसके कारण हमे तनाव भरा जीवन जीने पर मजबूर है। 

 लम्बा जीवन जीने वाली 5 Eating Habits 

आजकी बढ़ती भाग दौड़ की वजह से लोग अपनी सेहत पर धियान देना ही भूल गए है. जिसके कारण उनकी जिंदिगी दिनों दिन बोरिंग और unhealthy होती जा रही है। पैसा हमारे लिए बेहद जरुरी है एक अच्छा जीवन बिताने के लिए। लेकिन जब हम अपनी सेहत का ख़याल ही नही रखते तो उस पैसे का क्या फायदा। इसी समस्या को दूर करने के लिए हम हम आपके लिए कुछ ऐसी आदतों को लेकर आए है जिनकी मदद से आप अपने शरीर को एक स्वास्थ्य की दिशा में ले जा सकते है। जब तक हमारा शरीर स्वास्थ्य नहीं होता तब तक हम कोई भी काम करना बोझ लगता है। लेकिन आप इन आदतों को अपनाने से आप अपनी सेहत को ठीक कर सकते है और एक लम्बा और स्वास्थ्य जीवन जी सकते है।

 apne Anger se kese deal kre  | गुस्सा शांत रखने वाले उपाय (tips)  

गुस्सा आना एक आम बात है ये चीज सभी के अंदर फिक्स है। अपने  देखा होगा या खुद महसूस किया होगा के जब कोई बच्चा अपने माता - पिता के आने का बेसब्री से इंतजार करता है वो सोचता है के वो बहुत दिनों बाद अपने माता पिता से मिलेगा तो उसके अंदर एक उत्सुकता और खुशी होती है पर जब उसको पता चलता है के उसके माता पिता नही आ रहे तो उसकी ख़ुशी और उत्सुकता की जगह गुस्सा ले लेता है। उस समय पर वो कुछ भी कर सकता है। जैसे अपने आस पास के सामान को तोड़ सकता है या अपने माता पिता से नफरत कर सकता है। 


Tags

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)
To Top